Website Last Updated on October 18, 2018      
Services - ICDS
प्रतिरक्षण (टीकाकरण)–
राज्य के बच्चों एवं महिलाओं में संक्रामक रोगों से प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने के लिए समेकित बाल विकास सेवा कार्यक्रम के अन्तर्गत 0–1 वर्ष आयु के बच्चों को टी.बी., गलधोंटु, कालीखांसी, टिटेनस, पोलियों एवं खसरा तथा गर्भवती महिलाओं को टिटेनस के टीके आंगनबाड़ी केन्द्रों पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से लगवाये जाते हैं। इस सेवा के लिये विभाग द्वारा वित्तीय प्रावधान एवं भौतिक लक्ष्य नही रखे जाते हैं। टीकाकार्य आंगनबाडी केन्द्रों पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के कार्मिकों द्वारा किया जाता है।
सेवा में नवाचार, मातृ–शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस का आयोजन
यह दिवस केन्द्र परिक्षे्त्र के सभी गर्भवती, धात्री व एक वर्ष तक के बच्चों के समस्तज टीके, स्वास्थ्य एवं जांच तथा पोषण संबंधी परामर्श देने हेतु प्रत्येक केन्द्रों पर माह के किसी एक गुरूवार को गर्मियों में 8 से 2 तथा सर्दियों में 10 से 5 बजे तक आयोजित होता है। इसमें मेडिकल विभाग से ए.एन.एम. समस्त टीकों सहित उपस्थित होती है। आशा सहयोगिनी संबंधित लाभार्थियों को केन्द्र पर बुलाकर लाती है और आवश्यक टीके एवं स्वास्थ्य जांच को सुनिश्चित किया जाता है। जहां ए.एन.एम. नहीं पहुंच रही है, उसके लिये चिकित्सा एवं स्वास्थ्य कि विभाग को सतत सूचना दी जा रही है। मात- शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस का नियमित आयोजन होने के कारण राज्य में टीकाकरण, स्वास्थ्य जांच का प्रतिशत बढा है।